Happy Bhai Dooj Shayari Badhai Sandesh Kavita भैया दूज शायरी बधाई सन्देश

Happy Bhai Dooj Shayari Badhai Sandesh Kavita : भाई दूज हमारे देश के प्रमुख व महान पर्व माना जाता हैं इस दिन बहने अपने प्यारे भाई की आरती करती हैं और उनकी लम्बी आयु की कामना करती हैं , उसके सुख सम्रद्धि की कामना करती हैं , इस दिन भाई अपनी बहन की रक्षा करने का वचन देता हैं | भाई दूज पर बहने , दोस्त , परिवार के सदस्य ,अन्य रिश्तेदार आपस में एक दुसरे को बधाई देते हैं आज के आधुनिक युग में बधाई ,शुभकामनाये देने का अलग तरीका हैं इस दिन शायरी बधाई संदेश व मेसेज के द्वारा सुभाकाना भेजे जाते हैं तो आप भी अपने प्रेमी व यार दोस्तों को करे सरप्राइज , विश कर सकते हैं | यहाँ ये रही आपके लिए भाई दूज की शायरी , बधाई सन्देश , कविता ,Happy Bhai Dooj Shayari Badhai Sandesh Kavita

भैया दूज शायरी बधाई सन्देश ,

बहन करती भाई का करे दुलार,
उसे चाहिए बस भाई का प्यार ,
नही करती कोई मोटी चाहत ,
बस भाई को मिले खुशिया अथाह ,

थाल सजा कर बैठीं हूँ अंगना ,
तू आजा अब मुझे इन्तजार नही करना ,
मत डर अब तू इस दुनिया से ,
सबसे लड़ने खड़ी हैं तेरी बहना ,

प्रेम में सजा हैं ये दिन ,
कैसे कटे मेरे भैया तेरे बिन,
अब ये मुस्कान बोझ सी लगती हैं ,
तू आज अब ये सजा नही कटी हैं ,

भाई दूज का हैं त्यौहार ,
बहन मांगे भाई से लाख उपहार ,
तिलक लगाकर मिठाई खिलाकर ,
देती आशीर्वाद खुश रहो हर बार |
happy भाई दूज |

प्रेम विश्वास के बंधन से मनाओ ,
जो दुआ मांगो उसे तुम हमेशा ही पाओ ,
भाई दूज का पर्व हैं भईया जल्दी आओ ,
आकर प्यारी बहना से तिलक लगाकर मिठाई खाओ |
भाई दूज की हार्दिक शुभ कामनाये |

चंदन का टीका रेशम का धागा;
सावन की सुगंध बारिश की फुहार;
भाई की उम्मीद बहना का प्यार;
मुबारक हो आपको “”भाई दूज”” का त्योहार

याद आता है अक्सर वो गुज़रा हुआ ज़माना,
तेरी मीठी से आवाज़ में भाई कहकर बुलाना,
वो सुबह स्कूल के लिए तेरा मुझको जगाना,
अब क्या करे बहना यही है ज़िन्दगी का तराना

Aati Thi Jati Thi,
Hasti Thi Hasati Thi,
Roti Thi Rulati Thi
Bhagti Thi Bhagaati Thi,
Bolti Thi Bulwati Thi,
Par Aaj Pata Chala Ki,
Wo Mujhe Bhai Banana Chahti Thi.

Aaj ka din hi bahut khaas hain,
Behna ke liye kuch mere pas hai,
Tere sukoon ki khaatir o behna..
Tera bhaiya humesha tere sath hai.

Happy Bhaiya Dooj

भैया दूज बधाई सन्देश

Lal gulabi rang Se jum raha sansar,
Suraj ki kirane Si khusiyo ki bahar,
Chand Si chandni apno ka payar,
Badhai ho apko,
bhai dooj ka tyohaar

भाई बहन का रिश्तो अनमोल होता है
दुनियाँ के सभी रिश्तों में ये खास होता है
इस रिश्तो की खूबसूरती को याद दिलाने
आती है ये भैया दूज का त्यौहार
भैया दूज की बधाई हो !!!!!

मेरे भइया तुम्हारी हो लम्बी उमर,
कर रही हूँ प्रभू से यही कामना।
लग जाये किसी की न तुमको नजर,
दूज के इस तिलक में यही भावना।।

चन्द्रमा की कला की तरह तुम बढ़ो,
उन्नति के शिखर पर हमेशा चढ़ो,
कष्ट और क्लेश से हो नही सामना।
दूज के इस तिलक में यही भावना।।

थालियाँ रोली चन्दन की सजती रहें,
सुख की शहनाइयाँ रोज mere bhai ke बजती रहें,
पूर्ण हों सभी mere भाइयों की साधना।
दूज के इस तिलक में हैं यही भावना।।

रोशनी से भरे दीप जलते रहें,
नेह के सिन्धु नयनों में पलते रहें,
आज बहनों की हैं ये ही आराधना।
दूज के इस तिलक में यही भावना।।

भाई दूज पर कविता

भाई दूज की पूजा कर ,
करती हूँ उसका इन्तजार ,

कब आएगा मुझसे मिलने ,
कब सजेगा मेरा द्वारा ,

सजा कर थल बैठी हूं भाई ,
मिष्ठान और मेवे लाइ हु भाई ,

मत खेल मुझसे आखं मिचोली ,
प्यार से भर दे मेरी झोली ,

कब आएगा मेरे द्वार ,
कब खत्म होगा ये इन्तजार |

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *